हमसे ऋण का अनुरोध करने के लिए आपको एक आवेदन-फार्म भरना होगा । इसे आप हमारी किसी भी शाखा से प्राप्त कर सकते हैं या यहाँ डाउनलोड कर सकते हैं ।
इस फार्म में अनेक भाग हैं ।

मुख्य आवेदन – यह भाग किसी विशेष योजना के तहत किसी विशेष राशि के ऋण की माँग करने के लिए औपचारिक विवरण है ।  योजनाओं के ब्यौरे यहाँ प्राप्त किए जा सकते हैं ।

आवेदकों की सं. – कम से कम एक आवेदक जरूरी है ।  बहरहाल, यह भी संभव है कि सह-आवेदक हो ।

निजी सूचना – प्रत्येक आवेदक और सह-आवेदक के लिए विभिन्न निजी सूचनाएँ, आवासीय सूचना और नियोजन संबंधी सूचनाएँ आवश्यक होंगी ।  आपको अपना पीएएन कार्ड या मतदाता पहचान संख्या भी प्रस्तुत करनी होगी और अपनी वार्षिक आय की घोषणा करनी होगी ।

वित्तीय सूचना –  एक आसान सा टेबल जिसमें आवेदक और सह-आवेदक की आस्तियों और देयताओं की सूची हो, देना होगा ।  आपकी पात्रता और ऋण के रूप में दी जाने वाली राशि निर्धारित करने के लिए वेतन पर्चियों, आय कर की विवरणी आदि के माध्यम से दिए गए वित्तीय प्रलेखीकरण से इसका मिलान किया जाएगा । इसके अलावा, आपके विद्यमान ऋण के ब्यौरे भी देने होंगे ।

संपत्ति के ब्यौरे -संपत्ति का स्थान, हक निर्विवाद है या नहीं, भूखंड का क्षेत्रफल (स्व-निर्मित मकान के मामले में) या फ्लैट का क्षेत्रफल तथा ऐसे अन्य विवरण भरने होंगे ।

सामान्य घोषणाएँ – ये आसान से प्रश्न होंगे जो संपत्ति का प्रयोग कैसे किया जाएगा और संपत्ति की वर्तमान स्थिति से संबंधित होंगे ।

संदर्भ –कम से कम ऐसे दो व्यक्तियों का हवाला देना होगा जिन्होंने आपके साथ काम किया है या जो आपको उचित समयावधि के लिए पेशेवर तथा / या निजी रूप में आपको जानते हों ।

अतिरिक्त सूचना – आवेदन फार्म के साथ आपके नियमित वेतन खाते के ब्यौरे भी देने होंगे ।

फोटोग्राफ – आवेदक और सह-आवेदक का कम से कम एक फोटोग्राफ, हस्ताक्षर सहित प्रस्तुत करना होगा ।

गारंटीकर्ता का फार्म – प्रत्येक गारंटीकर्ता की निजी सूचना, संपर्क संबंधी सूचना और वित्तीय सूचनाएँ प्रस्तुत करनी होगी ।  यह एक अलग फार्म में होगा जिसे आप मुख्य आवेदन फार्म के साथ डाउनलोड कर सकते हैं ।

नियोक्ता के ब्यौरे – यदि आपका नियोक्ता एक असूचीबद्ध फर्म है या पर्याप्त रूप से परिचित फर्म नहीं है, तो यह सर्वथा उपयुक्त है कि कारोबार की प्रकृति, उसके प्रतिस्पर्धी, कार्यालयों की संख्या, विक्रयावर्त आदि के बारे में एक संक्षिप्त जानकारी दी जाए ।  आम तौर पर, वेबसाइट पर दी गई कंपनी प्रोफाइल पर्याप्त है । दस्तावेजों की जाँच-सूची का इस्तेमाल करें ताकि यह सुनिश्चित हो कि आप सभी आवश्यक दस्तावेजों की प्रतियाँ प्रस्तुत कर रहे हैं और अपना आवेदन प्रस्तुत करते समय इनके सभी मूल दस्तावेज लेकर आते हैं ।

बैंक विवरण – आदर्शत: कम से कम 12 महीनों की अवधि का बैंक विवरण प्रस्तुत करना होगा ।  कार्यकलापों के स्तर (लेन-देनों की संख्या और प्रकृति), औसत बैंक शेष, चैक वापसी, चेक अनादरण और भुगतान की आवधिकता (जैसे निश्चित अंतराल पर जमा वेतन की राशि) के लिए बैंक विवरण की जाँच-पड़ताल की जाती है ।

वैयक्तिक चर्चा प्रतीकात्मक ढंग से हमारे एक कार्यपालक द्वारा आपका साक्षात्कार किया जाएगा जिसके दौरान आप आंकड़ों और प्रक्रियाओं के बारे में अपने सभी संदेहों को दूर कर सकते हैं ।  कुछ मामलों में, आपसे अतिरिक्त गारंटीकर्ता या ब्यौरे प्रस्तुत करने के लिए कहा जा सकता है । सत्यापन प्रदान की गई सभी सूचनाओं के लिए एक क्षेत्र सत्यापन किया जाएगा, विशेषकर निम्नलिखित के लिए -

•  आवासीय पता

•  कार्यालय का पता

•  नियोजन का सत्यापन

•  बैंक खाते का सत्यापन

•  आवासीय और कार्यालय के टेलीफ़ोन नंबर

•  संपत्ति का पता

•  वित्त संबंधी

कभी-कभी आवेदन फार्म में आपके द्वारा दिए गए संदर्भ व्यक्तियों की भी त्वरित जाँच की जाती है । आपके प्रमाण-पत्रों की जाँच कर उन्हें सही पाए जाने पर, आपके और हमारे बीच विश्वास पैदा करना आसान हो जाता है ।

ऋण का अनुमोदन आपके आवेदन पर कार्यवाही किए जाने पर और आवेदित ऋण राशि और चुकौतीक्षमता पर निर्भर करते हुए, आपको अंतिम ऋण राशि की सूचना दी जाएगी ।  इसके बाद आपको मंजूरी पत्र दिया जाएगा जिसमें उन निबंधन व शर्तों का उल्लेख होगा जिनके अंतर्गत आपको मंजूरी प्रदान की गई है ।  ऋण की राशि संवितरित किए जाने से पहले इन निबंधन व शर्तों को पूरा करना होगा ।

प्रस्ताव-पत्र प्रस्ताव-पत्र में ऋण की राशि, ब्याज की दर, ऋण की समय-अवधि, चुकौती का माध्यम तथा अन्य ब्यौरे और विशेष शर्तों का उल्लेख होगा । आपको मंजूरी-पत्र के निबंधन व शर्तों में दिए गए किसी दस्तावेज के साथ-साथ, हमारे द्वारा दिए गए मानक फार्मेट में स्वीकृति-पत्र देना होगा ।  यह आपके ऋण प्रस्ताव का वित्तीय अनुमोदन मात्र है । आपके द्वारा इस प्रस्ताव को स्वीकार करने और बन्धक के विधिवत् रूप से प्रवर्तनीय होने और तकनीकी रूप से स्वीकृत होने के बाद ऋण का संवितरण किया जाएगा ।

विधिक दस्तावेज प्रस्तुत करना आपके द्वारा प्रस्ताव को स्वीकार करने के बाद, आपको संपत्ति के मूल दस्तावेज सौंपने होंगे ताकि ऋण के पूर्ण चुकौती होने तक उन्हें हमारे पास प्रतिभूति के रूप में रखा जा सके ।  कोई अतिरिक्त दस्तावेज जैसे सम्पार्श्विक प्रतिभूति, जो ऋण की शर्तों के अनुसार आवश्यक हो, भी इसी अवस्था में प्रस्तुत करना होगा ।

करार पर हस्ताक्षर करना करार और अन्य दस्तावेजों पर नियत प्रक्रिया के अनुसार हस्ताक्षर करने होंगे ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*
*
Website